जमीन के लालच में बेटे ही बने मां की जान के दुश्मन....बुजुर्ग महिला ने सुरक्षा के लिये पुलिस से लगाई गुहार

जमीन के लालच में बेटे ही बने मां की जान के दुश्मन....बुजुर्ग महिला ने सुरक्षा के लिये पुलिस से लगाई गुहार
जानसठ। थाना क्षेत्र के गांव घटायन दक्षिणी निवासी बुजुर्ग महिला ने पुलिस क्षेत्राधिकारी को तहरीर देते हुए बताया कि महिला के पति ने अपनी कृषि भूमि  पीड़ित महिला के नाम वसीयत कर दी थी। पति की मृत्यु के बाद कृषि भूमि बुजुर्ग महिला के नाम दर्ज हो गई, जिस कारण बेटे ही बुजुर्ग माता की जान के दुश्मन बन बैठे। बुजुर्ग महिला ने पुलिस को तहरीर देकर कानूनी कार्रवाई की मांग की है।
शनिवार को थाना क्षेत्र के गांव घटायन दक्षिणी निवासी उर्मिला पत्नी हुशन सिंह ने पुलिस क्षेत्राधिकारी शकील अहमद को तहरीर देकर बताया कि पीड़ित महिला विधवा है और पीड़ित महिला के पति ने अपने जीवन काल में ही अपनी कृषि भूमि पीड़ित महिला के नाम वसीयत कर दी थी। पति की मृत्यु के उपरांत विरासत के आधार पर कृषि भूमि पीड़ित महिला के पुत्रों के नाम दर्ज हो गई थी। पीड़ित महिला ने रजिस्टर्ड वसीयत के आधार पर सरकारी अभिलेखों में कृषि भूमि  अपने नाम दर्ज करा ली, जिस कारण पीड़ित महिला के बेटे ही बुजुर्ग महिला के जान के दुश्मन बन बैठे। महिला ने बताया कि अब उसकी जान को खतरा बना हुआ है। पति की मृत्यु के बाद से ही बेटे जमीन अपने नाम कराने का दबाव कई बार उस पर बना चुके हैं।
पीड़ित महिला ने बताया कि बेटे ही जमीन के लालच में मेरे साथ कोई भी संगीन वारदात कर सकते हैं। पीड़ित महिला ने अपनी जान की सुरक्षा हेतु पुलिस से मदद की मांग करते हुए कानूनी कार्रवाई की गुहार लगाई है। पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है।