इस्लामी शायरी

शायरी खूबसूरत नज़्म:  नबी का ज़िक्र मेरि ज़िन्दगी में रहता है

शायरी खूबसूरत नज़्म: नबी का ज़िक्र मेरि ज़िन्दगी में रहता...

ख़याले तैबा मेरि आशिक़ी में रहता है नबी का ज़िक्र मेरि ज़िन्दगी में रहता है